सुशांत सिंह राजपूत केस में बेबाकी से बोलीं अंकिता लोखंडे, विवेक अग्निहोत्री ने दी सतर्क रहने की हिदायत

0
5
सुशांत सिंह राजपूत केस में बेबाकी से बोलीं अंकिता लोखंडे, विवेक अग्निहोत्री ने दी सतर्क रहने की हिदायत

विवेक अग्निहोत्री ने अंकिता लोखंडे को दी सलाह (Photo Credit- vivekagnihotri/Lokhandeankita/sushantsinghrajput/instagram)

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) आत्महत्या केस (Suicide Case) में अंकिता लोखंडे (Ankita Lokhande) ने बेबाकी से कई खुलासे किए हैं. वहीं अंकिता को डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री (Vivek Agnihotri) ने सतर्क रहने की हिदायत की है.

मुंबई. बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन के बाद सोशल मीडिया पर बवाल से लेकर पुलिस की पूछताछ तक जारी है, इसके बाद भी अभी तक कोई इस बात का पता नहीं लगा सका है कि एक्टर ने अपनी बहुमूल्य जिंदगी खत्म करने का कदम आखिर क्यों उठाया. वहीं अब पहली बार सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे (Ankita Lokhande) ने इस पूरे मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने सुशांत को डिप्रेस्ड इंसान बताने वाले लोगों पर नाराजगी जताते हुए ये साफ कर दिया है कि सुशांत कभी डिप्रेशन में नहीं थे. वहीं अंकिता के बेबाकी से बात करने पर जाने-माने डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री (Vivek Agnihotri) काफी इंप्रेस्ड हैं लेकिन उन्होंने अंकिता को सतर्क रहने की सलाह दी है.

विवेक अग्निहोत्री ने सुशांत सिंह राजपूत केस में बेबाकी से बात करने के लिए अंकिता लोखंडे की पीठ थपथपाई है. इसके साथ बी विवेक ने अंकिता को कुछ लोगों से सतर्क रहने की हिदायत भी दी है. विवेक को शक है कि वो लोग अंकिता के पीछे पड़ जाएंगे. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘सुशांत सिंह राजपूत वाकई में डिप्रेशन में नहीं था. लोग उनको समझने में फेल हो रहे है क्योंकि आम लोग क्रिएटिव लोगों को समझ नहीं सकते हैं. बहुत खूब अंकिता लोखंडे…कृपया अपना ध्यान रखो, अब वो लोग तुम्हारा पीछा करेंगे. भगवान तुम्हें शक्ति दे’. यहां देखें विवेक अग्निहोत्री का ट्वीट-

बता दें कि सुशांत के जाने के बाद उन्होंने बिहार पुलिस को बयान देने के बाद पहली बार चुप्पी तोड़ी और एक न्यूज चैनल से बातचीत में उन्होंने दो टूक कहा कि सुशांत के डिप्रेशन को लेकर जिस तरह की खबरें चल रही हैं, वो गलत है. उन्होंने कहा सुशांत एक बेहद पॉजिटिव इंसान था, जो छोटी-छोटी बातों में खुशियां ढूंढ़ता था. वो कहता था कि अगर में बॉलीवुड में कुछ नहीं कर पाया तो ऑर्गेनिक फार्मिंग करूंगा और खुश रहूंगा. अंकिता ने ये भी कहा कि सुशांत एक डायरी लिखते थे, जिसमें वो लिखते थे कि अगले 5 सालों में वो क्या-क्या करेंगे, कैसे दिखें, कहां पहुंचेंगे. अंकिता का कहना है कि सुशांत ने अपने लिए 5 साल के जो भी सपने देखे थे वो सब सच हुए. ऐसा इंसान डिप्रेस्ड कैसे हो सकता है. अंकिता ने इस इंटरव्यू में बेहद विश्वास के साथ ये बात रखी है कि सुशांत कभी डिप्रेस्ड हो ही नहीं सकते, इतने विश्वास के साथ अभी तक ये बात किसी ने भी नहीं कही है.



Source link